Sunday, June 13, 2021
HomeUncategorizedAnti Terrorism Day 2021: कोरिया पुलिस कप्तान चंद्रमोहन सिंह सहित मातहतों ने...

Anti Terrorism Day 2021: कोरिया पुलिस कप्तान चंद्रमोहन सिंह सहित मातहतों ने भी “आतंकवाद विरोधी दिवस” की शपथ ली

दीपक सिंह चौहान

भारत में 21 मई को प्रतिवर्ष “आतंकवाद विरोधी दिवस” के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को भारत का बच्चा- बच्चा नहीं भूल सकता क्योंकि आज की तारीख में भारत के सबसे युवा प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या हुई थी, और उनकी हत्या में पूरी तरह से आतंकवाद का हाथ था। यही वजह है कि उनकी हत्या के बाद से ही ये तय किया गया कि इस दिन को आतंकवाद विरोधी दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

क्या हुआ था उस दिन? 
21 मई 1997 को राजीव गांधी एक रैली में भाग लेने के लिए तमिलनाडु के एक स्थान श्रीपेरंबदूर गए थे। उनके सामने एक महिला आई जो लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम के एक आतंकवादी समूह की सदस्य थी। उसके कपड़ों के नीचे विस्फोटक थे और उसने पीएम से संपर्क किया और कहा कि वह उनके पैर छूना चाहती है। जैसे ही वह पैर छूने लगी, अचानक बम विस्फोट हुआ जिससे कि वहां मौके पर प्रधानमंत्री और 25 लोग मारे गए।

 

आतंकवाद विरोधी प्रतिज्ञा ली जाती है
राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी दिवस को मनाने की आधिकारिक घोषणा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री वी.पी सिंह द्वारा की गई। राजीव गांधी की हत्या के बाद से इस दिन को हर साल इसी रूप में मनाया जा रहा है। इस दिन सभी सरकारी कार्यालयों और सार्वजनिक संस्थानों में आतंकवाद विरोधी प्रतिज्ञा ली जाती है। विद्यालयों में विशेष तौर पर बच्चों के इस विषय में जागरूक किया जाता है।

कोरिया जिले में पुलिस अधीक्षक ने भी अपने स्टाफ के साथ ली शपथ

उक्त अनुक्रम में “आतंकवाद विरोधी दिवस” की शपथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय कोरिया बैकुंठपुर में पुलिस अधीक्षक कोरिया चंद्रमोहन सिंह द्वारा स्वयं ली गई, साथ मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोरिया श्रीमती मधुलिका सिंह, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय बैकुंठपुर धीरेन्द्र कुमार पटेल तथा थाना प्रभारी  विवेक शुक्ला को शपथ दिलाई गई।

मनाने का उद्देश्य
इसे मनाने का मुख्य उद्देश्य है लोगों के बीच मानवता को जीवित रखना है। लोगों को आतंकवादी समूहों के बारे में समय-समय पर जानकारी देना और उनके बीच जागरूकता बढ़ाना। युवाओं को सही दिशा बतलाना ताकि वे भूलकर भी किसी भी लालच में विभिन्न आतंकवादी समूहों का हिस्सा न बनें। देश, समाज और व्यक्ति सभी को आतंकवाद की छाया तक न पड़ने देने के उद्देश्य से इस दिन को मनाया जाता है।

 

Deepak Singh Chauhanhttp://expressnewsindia.in
Journalist and Editor-in-Chief of Express News India , Deepak Singh Chauhan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments